उत्तर प्रदेशसत्ता-सियासतहरदोई

अखिलेश यादव का तंज: साढ़े चार साल में बदले हैं सिर्फ नाम, समाजवादियों के काम को अपना बता रही योगी सरकार

हरदोई: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव  रविवार को ‘समाजवादी विजय रथ’ लेकर हरदोई पहुंचे. उन्होंने, यहां लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की मूर्ति का लोकार्पण किया. इसके बाद एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा. कहा कि समाजवादियों के बनाए एक्सप्रेस-वे पर सुखोई और मिराज जैसे लड़ाकू विमान उतरे थे. लेकिन भाजपा सरकार ने महज जिलों के नाम बदले हैं. अखिलेश ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि साढ़े 4 साल बाद मुख्यमंत्री बोल रहे हैं कि हम लैपटॉप देंगे, स्मार्टफोन देंगे, लेकिन नौजवान और गांव के लोग जानते हैं कि इन्होंने संकल्प पत्र में किए वादों को पूरा नहीं किया है. कहा कि इस सरकार ने सिर्फ दो काम किए हैं ‘एक नाम बदलना’ और दूसरा ‘शौचालय बनवाने का’

आगरा एक्सप्रेस-वे के रास्ते हरदोई पहुंचे अखिलेश ‘विजय रथ’ पर सवार हुए और करीब 30 किलोमीटर लंबी रथ यात्रा कर कार्यकर्ताओं का उत्साहवर्धन किया. उन्होंने चुनावी जनसभा को भी संबोधित किया. साथ ही माधौगंज विकास खंड में सरदार पटेल की जयंती के अवसर पर अखिलेश यादव ने शिरकत की. उन्होंने सदरपुर गांव में सरदार पटेल की प्रतिमा का अनावरण किया और एलपीएस स्कूल में नए स्विमिंग पूल का लोकार्पण किया. इस दौरान अखिलेश ने कहा कि आने वाले समय में प्रदेश में ऐतिहासिक बदलाव होने वाला है. भाजपा सरकार से त्रस्त जनता समाजवादी पार्टी की पूर्ण बहुमत से सरकार बनाएगी. भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा चिलम वाली सरकार की साढ़े चार साल में अपनी कोई उपलब्धि नहीं है, बल्कि ये सरकार उद्धघाटन का उद्धघाटन और शिलान्यासों का शिलान्यास कर वाह वाही लूट रही है.

अखिलेश यादव ने कहा कि आयोजन में आए अधिकांश लोग किसान और खेतीबाड़ी से जुड़े हुए हैं. इसीलिए, कार्यक्रम में इतना उत्साह दिख रहा है. कहा किसानों के आंदोलन में ब्रिटिश हुकूमत को झुकाने वाले सिर्फ सरदार पटेल थे और किसान प्रेमी थे. कहा कि लौह पुरुष सरदार पटेल जी ने तमाम रियासतों को भारत के साथ जोड़ने का काम किया, लेकिन भाजपा सरकार उनके इरादों पर खरी नहीं उतर पाई. इस सरकार में किसान खुशहाल नहीं है. कहा जब तक अन्नदाता खुश नहीं रहेगा तब तक देश खुशहाल नहीं होगा. देश की अर्थव्यवस्था को हमारे किसान भाई संभाल रहे हैं, लेकिन बीजेपी सरकार की नीतियों से आज किसान परेशान और लाचार है.

अखिलेश ने कहा जब कोविड के दौर में सब कुछ बन्द था तो सिर्फ एक ही वर्ग कार्यरत था वो है किसान वर्ग, जिसने देश की अर्थव्यवस्था को उस विषम दौर में संभाला और अर्थव्यवस्था को बरकरार रखा. अखिलेश ने कहा कि केंद्र सरकार के बनाए गए तीन कृषि कानून ऐसे हैं, जिनसे देशवासियों का कंट्रोल उद्योगपतियों के हाथों में आ जाएगा. अखिलेश ने कहा अगर, भाजपा सरकार पटेल जी को मानती है तो सरदार जी के संकल्प ‘किसानों की खुशी’ को ध्यान में रखते हुए आज उनकी जयंती के दिन तीनों काले कानूनों को वापस ले ले जो किसानों को गर्त में डाल रहे हैं.

सपा अध्यक्ष ने कुशीनगर एयरपोर्ट का जिक्र करते हुए कहा जिसे समाजवादी सरकार ने बनवाया. उसका भाजपा ने लोकार्पण किया है. उन्होंने कहा कि भाजपा के पास अपना काम दिखाने को नहीं है. वह केवल समाजवादी पार्टी के किये कामों का लोकार्पण करती है. यहां तक कि मुख्यमंत्री जिस हेलीकॉप्टर से उड़ते हैं, जिस सोफे पर बैठते हैं, जिस गाड़ी से चलते हैं, वह भी सपा सरकार का खरीदा हुआ है. अखिलेश ने दावा किया कि जैसा एक्सप्रेस-वे समाजवादी पार्टी ने बनाया ऐसा किसी भी देश में नहीं बनाया गया होगा.

अखिलेश ने भाजपा सरकार पर बदले की भावना से समाजवादी सरकार के दौरान लागू की गईं योजनाओं का नाम बदलने का आरोप लगाया. कहा हमारी सरकार ने न्यूयॉर्क शहर की तर्ज पर डायल-100 सेवा शुरू की थी. शानदार अफसरों को यहां से न्यूयॉर्क भेजा गया था और पूरी रिसर्च के बाद इस योजना को लागू किया गया था, लेकिन उसका नाम भी भाजपा ने बदल दिया. बोले उद्धघाटन का उद्धघाटन करना और शिलान्यास का शिलान्यास करने के अलावा योगी सरकार ने अपने किसी काम का उद्धघाटन व शिलान्यास अपने कार्यकाल में नहीं किया. केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा भाजपा सरकार देश को बेचने की ओर अग्रसर है. इस सरकार ने रेलवे, जहाज, शिपयार्ड समेत कई सरकारी चीजों को बेंच दिया. सरकार ने चुनाव से पहले युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन नौजवानों को नौकरी नहीं मिली. कहा कि भाजपा सरकार में लोग महंगाई की मार झेल रहे हैं.

Related Articles

Back to top button
65 साल के बुजुर्ग ने की बच्ची से हैवानियत: बहाने से घर बुलाकर किया रेप, चल भी नहीं पा रही थी मासूम अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 17 से शुरू होगा मुख्य अनुष्ठान, जानिए किस दिन होगा कौन सा पूजन रॉयल एनफील्ड हिमालयन 450 बनाम केटीएम 390 एडवेंचर बनाम बीएमडब्ल्यू जी 310 जीएस: स्पेक्स, कीमत की तुलना देखिए काशी की अद्भुत देव दीपावली: 10 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे, ड्रोन से गंगा घाट की ये तस्वीरें मोह लेंगी