बड़ी खबर

कोरोना के खिलाफ एक और बड़ा हथियार, ब्रिटेन में मर्क की गोली के उपयोग को मंजूरी

ब्रिटेन ने कोविड-19 के सफल इलाज में मददगार मानी जा रही विश्व की पहली एंटीवायरल गोली के सशर्त उपयोग को मंजूरी दी है। ब्रिटेन पहला देश है जिसने इस गोली से उपचार को उपयुक्त माना है, हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि यह गोली कितनी जल्द उपलब्ध होगी। 18 साल और इससे अधिक उम्र के कोरोना संक्रमित ऐसे लोगों को इस गोली के उपयोग करने की मंजूरी दी गई है जिनमें कम से कम एक ऐसा कोई कारक नजर आ रहा है जिससे स्थिति गंभीर हो सकती है।

इस दवा का नाम ‘मोल्नुपिराविर’ है। कोविड के हल्के-फुल्के संक्रमण वाले व्यक्तियों को यह गोली दिन में दो बार लेनी पड़ेगी। यह एंटीवायरल गोली कोरोना के लक्षणों को कम कर देती है और तेजी से स्वस्थ होने में मदद करती है। अस्पतालों पर बोझ कम करने तथा गरीब देशों में संक्रमण पर अंकुश लगाने में यह मददगार हो सकती है। इस गोली से महामारी के खिलाफ लड़ने के लिए जरूरी दो तरीकों औषधि और रोकथाम में मददगार होगी।

अमेरिका, यूरोप और कुछ अन्य देशों में संबंधित नियामक इस दवा की समीक्षा कर रहे हैं। अमेरिका के खाद्य एवं औषधि प्रशासन ने पिछले महीने कहा था कि वह इस गोली की सुरक्षा और असर के बारे में पता करने के लिए नवंबर के आखिर में एक पैनल की बैठक बुलाएगा। औषधि निर्माता कंपनी ‘मर्क’ ने इस दवा को विकसित किया है।

अक्टूबर में ब्रिटिश अधिकारियों ने घोषणा की थी कि ‘मोल्नुपिराविर’ की 480,000 खुराक हासिल की है और इन सर्दियों में इनसे हजारो लोगों के उपचार में मदद मिलने की उम्मीद है। ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जावीद ने कहा, ‘यह हमारे देश के लिए ऐतिहासिक दिन है क्योंकि ब्रिटेन दुनिया का पहला देश है जिसने ऐसे एंटीवायरस को मंजूरी दी है जिसे घर पर ही कोविड के उपचार के लिए लिया जा सकता है।’

Related Articles

Back to top button
65 साल के बुजुर्ग ने की बच्ची से हैवानियत: बहाने से घर बुलाकर किया रेप, चल भी नहीं पा रही थी मासूम अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 17 से शुरू होगा मुख्य अनुष्ठान, जानिए किस दिन होगा कौन सा पूजन रॉयल एनफील्ड हिमालयन 450 बनाम केटीएम 390 एडवेंचर बनाम बीएमडब्ल्यू जी 310 जीएस: स्पेक्स, कीमत की तुलना देखिए काशी की अद्भुत देव दीपावली: 10 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे, ड्रोन से गंगा घाट की ये तस्वीरें मोह लेंगी