उत्तर प्रदेशलखनऊ

वसूली के लिए झोला लेकर निकलने वाले अब सियासत बचाने के लिए एसी रथ लेकर निकलेः स्वतंत्र देव सिंह

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने मंगलवार को सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव की रथयात्रा पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि जो सत्ता में रहते हुए नौकरियों के नाम पर वसूली के लिए झोला लेकर निकलते थे अब अपनी खत्म हो चुकी सियासत व इकबाल को बचाने के लिए एसी रथ लेकर निकले हैं. उन्होंने कहा कि पार्टी के नाम पर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी चलाने वाले ये चेहरे आज भी युवराज-महाराजा की मानसिकता में ही जी रहे हैं. जबकि जनता ने परिवारवाद, भ्रष्टाचारवाद और सामंतवाद की राजनीति को खारिज कर उन्हें घर बिठा दिया है.

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस, सपा, बसपा सहित विपक्षी दलों को अराजकता व लाश पर राजनीति करना ही सुहाती है. यही वजह है कि अपराध, भ्रष्टाचार, महिलाओं, दलितों के खिलाफ शोषण के अड्डे बन चुके कांग्रेसी राज्यों को छोड़कर उनके नेता उत्तर प्रदेश में राजनीतिक पर्यटन पर हैं. राजस्थान में उन्हें दलितों पर हो रहे अत्याचार, छत्तीसगढ़ में आदिवासियों का शोषण नहीं दिखता, लेकिन यूपी के सुशासन को बाधित करने के लिए वह पूरी ताकत लगाए हुए हैं. स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि जिन्होंने अपने मंत्रिमंडल में भ्रष्टाचारियों और अपराधियों को सिरमौर की तरह सजा रखा था, आज वे कानून-व्यवस्था पर सवाल उठा रहे हैं. कानून-व्यवस्था की ही यह नजीर है कि सपा मुखिया सीएम रहते हुए भ्रष्टाचारियों को अपने साथ मंत्री बनाकर बिठाते थे. जबिक योगी की अगुवाई में भाजपा की सरकार बनते ही अपराधियों व माफिया का रसूख हवा हो गया और वे जेल पहुंच गए.

भाजा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जिन्होंने किसानों की जमीन पर कब्जे किए, उनके नाम पर राशन, सब्सिडी खा गए, जिन्होंने चीनी मिल बेच डाली, गन्ने का दाम तक नहीं दिया आज वे किसान हितैषी बनने का नाटक कर रहे हैं. लेकिन वह भूल चुके हैं कि प्रदेश का अन्नादाता उनके झूठ व भ्रष्टाचार के खर-पतवार को प्रदेश की राजनीति से उखाड़ फेंक चुका है. जनता को पता है कि कोविड के संकट के दौरान घरों में कैद रहे विपक्षी चेहरे अब जब कोविड की दूसरी लहर पर नियंत्रण हो चुका है तब मन बहलाने के लिए एसी बस लेकर निकले हैं. ये विपक्षी नेता पहले घरों में बैठकर सच्चाई महसूस नहीं कर पा रहे थे और अब एसी बसों के काले शीशों से अपने काले कारनामे ही देख पा रहे हैं. उन्होंने कहा कि सपा शासन काल में राजधानी लखनऊ सहित पूरे प्रदेश में रात होते ही सड़कों पर निकल कर बाइक स्टंट करने वालों द्वारा आमजन में जो खौफ और भय पैदा करते थे आखिर वे कौन थे, जनता जानती है.

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि जिन्होंने गंगा से लेकर गोमती तक भ्रष्टाचार की धारा बहाई, आज उन्हें निर्मल गंगा नहीं दिख रही. आज कुछ लोगों को कालाधन की चिंता हो रही है. क्योंकि उनके भ्रष्टाचार व लूट की कमाई पर सुशासन का डंडा चल चुका है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, जनता राज्य को लूटने वाले लोगों को फिर से सत्ता नहीं सौपेगी. जनता ने ईमानदार,परिश्रमी, कर्मठ और गरीबों का कल्याण करने वाले मोदी-योगी के नेतृत्व को स्वीकार कर लिया है. प्रदेश की जनता मोदी के मार्गदर्शन व योगी की अगुवाई में चल रही भाजपा सरकार के कल्याणकारी कदमों से प्रसन्न है. वह ऐसी दिखावटी विजय यात्राओं के नाम पर निकले भ्रष्टाचार, कुशासन, लूट व अराजकता के प्रतीकों के सियासी भविष्य की पराभव यात्रा में बदलने के लिए तैयार है.

Related Articles

Back to top button
65 साल के बुजुर्ग ने की बच्ची से हैवानियत: बहाने से घर बुलाकर किया रेप, चल भी नहीं पा रही थी मासूम अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 17 से शुरू होगा मुख्य अनुष्ठान, जानिए किस दिन होगा कौन सा पूजन रॉयल एनफील्ड हिमालयन 450 बनाम केटीएम 390 एडवेंचर बनाम बीएमडब्ल्यू जी 310 जीएस: स्पेक्स, कीमत की तुलना देखिए काशी की अद्भुत देव दीपावली: 10 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे, ड्रोन से गंगा घाट की ये तस्वीरें मोह लेंगी