प्रयागराज

सहायक शिक्षक के पद पर नियुक्त नहीं किए जा सकते BPEd डिग्री धारक: इलाहाबाद हाईकोर्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक सुनवाई के दौरान साफ किया कि किसी भी हाल में बीपीएड डिग्री धारक व्यक्ति प्राइमरी स्कूल के असिस्टेंट टीचर (सहायक शिक्षक) के पद पर नियुक्त नहीं किया जा सकता. इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि प्राइमरी स्कूलों में सहायक शिक्षक का पद पाने के लिए जरूरी है कि कैंडिडट ने ग्रेजुएशन के साथ ही बीटीसी/एचटीसी/सीटी या इनके समकक्ष कोई डिग्री ली हो. तभी उसे ये पद दिया जा सकता है. किसी भी स्थिति में ऐसा व्यक्ति जिसके पास बीपीएड की डिग्री हो उसे असिस्टेंट टीचर नहीं बनाया जा सकता.

गोंडा के एक व्यक्ति के केस की हो रही थी सुनवाई 

जस्टिस दिनेश कुमार सिंह की बेंच ने उस दलील को खारिज करते हुए यह फैसला सुनाया जिसमें बीपीएड किए एक व्यक्ति ने गोंडा के प्राइमरी स्कूल से सहायक शिक्षक के पद से हटाए जाने का विरोध करते हुए अर्जी दायर की थी. बेंच ने फैसला सुनाते हुए कहा कि, ‘प्राइमरी सेक्शन में बच्चे क्लास एक से पांच में पढ़ते हैं इसलिए इन्हें पढ़ाने के लिए टीचर्स को स्पेशल ट्रेनिंग की जरूरत होती है.’ कोर्ट ने ये भी कहा कि किन्हीं वजहों से ही असिस्टेंट टीचर की नियुक्ति के समय विशेष प्रकार की शैक्षिक योग्यता की मांग की जाती है, जिसमें बीपीएड की डिग्री नहीं आ सकती.

बीटीसी कैंडिडेट न मिले तो बीएड वालों को दे मौका

Related Articles

Back to top button
65 साल के बुजुर्ग ने की बच्ची से हैवानियत: बहाने से घर बुलाकर किया रेप, चल भी नहीं पा रही थी मासूम अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 17 से शुरू होगा मुख्य अनुष्ठान, जानिए किस दिन होगा कौन सा पूजन रॉयल एनफील्ड हिमालयन 450 बनाम केटीएम 390 एडवेंचर बनाम बीएमडब्ल्यू जी 310 जीएस: स्पेक्स, कीमत की तुलना देखिए काशी की अद्भुत देव दीपावली: 10 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे, ड्रोन से गंगा घाट की ये तस्वीरें मोह लेंगी