कोरोना वायरसताज़ा ख़बरदेश

Covid 19: अब पालतू जानवरों में भी पाया गया अल्फा वेरिएंट, पहली बार दो बिल्लियां और एक कुत्ते का टेस्ट पॉजिटिव

घरेलू पालतू जानवरों में जहां कोविड-19 संक्रमण पाया जा चुका है, वहीं अब ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने पहली बार बिल्लियों और कुत्तों में कोविड के अल्फा वेरिएंट संक्रमण की सूचना दी है.वेटरनरी रिकॉर्ड जर्नल में प्रकाशित अध्ययन ने घरेलू पालतू जानवरों में सार्स-सीओवी-2 अल्फा वेरिएंट की पहली बार पहचान का वर्णन किया है.दो बिल्लियां और एक कुत्ता पीसीआर टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि दो अन्य बिल्लियों और एक कुत्ते ने हृदय रोग के लक्षण विकसित होने के दो से छह सप्ताह बाद एंटीबॉडी प्रदर्शित की है. इन पालतू जानवरों के कई मालिकों ने अपने पालतू जानवरों के बीमार होने से कई हफ्ते पहले श्वसन संबंधी लक्षण महसूस किए थे और वह कोविड-19 पॉजिटिव भी पाए गए थे.

इन सभी पालतू जानवरों में गंभीर मायोकार्डिटिस (हृदय की मांसपेशियों की सूजन) सहित हृदय रोग की तीव्र शुरुआत पाई गई. ब्रिटेन में राल्फ पशु चिकित्सा रेफरल केंद्र के प्रमुख लेखक लुका फेरासिन ने कहा, हमारे अध्ययन में कोविड-19 अल्फा वेरिएंट से प्रभावित बिल्लियों और कुत्तों के पहले मामलों की रिपोर्ट की गई है और यह दिखाता है कि पहले से कहीं अधिक जोखिम है और साथ रहने वाले जानवर सार्स-सीओवी-2 से संक्रमित हो सकते हैं.

अमेरिकी राज्यों में सफेद पूंछ वाले हिरण भी संक्रमित

फेरासिन ने कहा, हमने गंभीर हृदय संबंधी असामान्यताओं की विशेषता वाले विशिष्ट नैदानिक प्रदर्शन की भी सूचना दी है, जो कि कोविड-19 से प्रभावित लोगों में एक अच्छी तरह से पाई जाने वाली जटिलता है, लेकिन पहले कभी पालतू जानवरों में इसका वर्णन नहीं किया गया है.यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार, दुनिया भर में सार्स-सीओवी-2 से संक्रमित जानवरों की रिपोर्ट दर्ज की गई है.

इनमें से अधिकांश जानवर कोविड-19 वाले लोगों के संपर्क में आने के बाद संक्रमित हो गए, जिनमें मालिक, देखभाल करने वाले या अन्य लोग शामिल थे, जो इन जानवरों के निकट संपर्क में थे. संक्रमित जानवरों में पालतू बिल्लियां, कुत्ते और फेरेट्स (नेवले की जाति का एक जानवर) शामिल हैं, वहीं चिड़ियाघरों और अभयारण्यों में कई प्रकार की बड़ी बिल्लियां और ऊदबिलाव भी इसकी चपेट में आ चुके हैं. इसके अलावा कई अमेरिकी राज्यों में जंगली सफेद पूंछ वाले हिरण भी संक्रमित हुए हैं.

हाल के प्रायोगिक शोध से पता चलता है कि कई स्तनधारी जैसे बिल्लियां, फेरेट्स, फूट्र बैट, हैम्स्टर, रैकून डॉग और सफेद पूंछ वाले हिरण वायरस से संक्रमित होने के अलावा एक ही प्रजाति के अन्य जानवरों में भी संक्रमण फैला सकते हैं. हालांकि, जानवरों से लोगों में कोविड-19 फैलने का खतरा कम माना जा रहा है.फेरासिन ने कहा, हालांकि, पालतू जानवरों में कोविड-19 संक्रमण एक अपेक्षाकृत दुर्लभ स्थिति बनी हुई है और हमारी टिप्पणियों के आधार पर, ऐसा लगता है कि ट्रांसफर जानवरों से मनुष्यों के बजाय मनुष्यों से पालतू जानवरों में होता है.

Related Articles

Back to top button
65 साल के बुजुर्ग ने की बच्ची से हैवानियत: बहाने से घर बुलाकर किया रेप, चल भी नहीं पा रही थी मासूम अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 17 से शुरू होगा मुख्य अनुष्ठान, जानिए किस दिन होगा कौन सा पूजन रॉयल एनफील्ड हिमालयन 450 बनाम केटीएम 390 एडवेंचर बनाम बीएमडब्ल्यू जी 310 जीएस: स्पेक्स, कीमत की तुलना देखिए काशी की अद्भुत देव दीपावली: 10 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे, ड्रोन से गंगा घाट की ये तस्वीरें मोह लेंगी