उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

लापता हुए अखिलेश यादव! आजमगढ़ में जगह-जगह लगे “गुमशुदा की तलाश” के पोस्टर

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के लोकसभा क्षेत्र आजमगढ़ में एक बार फिर उनकी गुदशुदी के पोस्टर लगे हैं. इस बार यह पोस्टर बीजेपी की ओर से लगाए गए हैं. अपने संसदीय क्षेत्र को कथित तौर पर नजरअंदाज करने के आरोप में यह पोस्टर लगाए गए हैं. दरअसल अखिलेश यादव अकसर यूपी के तमाम इलाकों की समस्याओं को लेकर ट्विटर पर एक्टिव रहते हैं. लेकिन इस बार अखिलेश पर अपने संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ को नजरअंदाज करने आरोप लगाया गया है. दरअसल आजमगढ़ में जलजमाव की समस्या है, जिससे लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. लेकिन अखिलेश ने आपराधिक घटनाओं को लेकर तो ट्वीट किया लेकिन लोगों की समस्या पर वे कुछ नहीं बोले.

पूरे शहर में लगे लापता सांसद की तलाश के पोस्टर

जिसके बाद बीजेपी ने तुरंत मौका लपकते हुए अखिलेश यादव को पोस्टर के जरिए घेरा. बीजेपी ने सोमवार को पूरे शहर में लापता सांसद की तलाश का पोस्टर लगा दिया. 2019 में आजमगढ़ लोकसभा सीट से सांसद चुने जाने के बाद अखिलेश ने अब तक जिले की मात्र तीन यात्राएं की है. उनमें भी अखिलेश ने हर बार वे निजी या पार्टी के काम से ये यात्राएं की है.

सीएए और एनआरसी को लेकर अखिलेश के खिलाफ कांग्रेस लगाए थे पोस्टर

इससे पहले इसी साल फरवरी में भी आजमगढ़ में अखिलेश के लापाता होने के पोस्टर लगाए गए थे. तब कांग्रेस ने इसकी जिम्मेदारी ली थी. उस पोस्टर में जिक्र किया गया था कि ‘सीएए और एनआरसी के विरोध-प्रदर्शन के दौरान मुस्लिम महिलाओं पर हुई पुलिसिया बर्बरता पर अखिलेश यादव क्यों चुप हैं? अखिलेश यादव 2019 के चुनाव के बाद से लापता हैं.’ तब कांग्रेस जिला अध्यक्ष प्रवीण सिंह ने कहा था कि “अखिलेश यहां के सांसद और विपक्ष के बड़े नेता होने के बावजूद अपनी भूमिका नहीं निभा पा रहे. आजमगढ़ में कई बड़ी घटनाएं हुईं, लेकिन वह चुप हैं.”

Related Articles

Back to top button
रॉयल एनफील्ड हिमालयन 450 बनाम केटीएम 390 एडवेंचर बनाम बीएमडब्ल्यू जी 310 जीएस: स्पेक्स, कीमत की तुलना देखिए काशी की अद्भुत देव दीपावली: 10 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे, ड्रोन से गंगा घाट की ये तस्वीरें मोह लेंगी नीलगाय से टकराई जिला जज की गाड़ी और उड़े परखच्चे, राखी दीक्षित और उनके दो बच्चे बाल-बाल बचे रश्मिका मंदाना इस क्लासिक आइसक्रीम से अपना मीठा स्वाद चखती हैं