आज़मगढ़उत्तर प्रदेश

सपा विधायक का सीएम पर पलटवार, कहा मर्यादा भूल गए हैं मुख्यमंत्री

आजमगढ़: सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा आजमगढ़ की पहचान को लेकर उठाए गए सवाल पर सपा विधायक डा. संग्राम यादव ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि सीएम अपनी मर्यादा भूल गए हैं। आजमगढ़ की पहचान हमेंशा से ऋषि मुनियों और मनीषियों के नाम से रही है और आज भी है।

मीडिया को जारी बयान में विधायक ने कहा कि योगी जी संवैधानिक पर हैं उनसे ऐसे बयान की उम्मीद नहीं थी। आज यूपी किन क्षेत्रों में आगे बढ़ रहा है किसी से छिपा नहीं है। आज हत्या में बलाल्कार में, छिनैती, बेरोजगारी में आगे बढ़ रहा है। मानवाधिकार ने साफ किया है कि सबसे ज्यादा अपराध यूपी में हुए हैं। आज यूपी बेरोजगारी, महिलाओं पर अत्याचार में आगे है। यूपी की जो पहचान थी आज हत्या प्रदेश में बदल गयी है। किसान को गाड़ी से कुचला जाता है। योगी के नाक के नीचे व्यापारी की हत्या कर दी जाती है।

उन्होंने कहा कि हम योगी जी से कहेंगे कि वे आजमगढ़ के इतिहास को पढ़ें। महापंडित राहुल सांकृत्यायन ने वोल्गा से गंगा तक लिखकर के पूरे देश और दुनिया में आजमगढ़ की पहचान बढ़ाने का काम किया। यहां बड़े बड़े राजनेता हुए। आजादी की लड़ाई में आजमगढ़ का योगदान किसी से छिपा नहीं है। आजमगढ़ अपनी सांस्कृतिक व साहित्यिक विरासत के लिए जाना जाता है। हमें उनसे ऐसे बयान की उम्मीद नहीं थी।

बता दें कि आजमगढ़ आगमन पर सीएम ने कहा था कि जिले की क्या पहचान थी किसी थे छिपी नहीं है। आजमगढ़ के युवाओं को लोग होटल व धर्मशाला में कमरे देने से कतराते था। आजमगढ़ की छबि बदली है। अब इसकी पहचान विकास के नाम पर होती है। सीएम के इस बयान पर सपाइयों ने नाराजगी जताई है। विधायक ने दावा किया कि जिले में जो भी विकास हुए है सपा सरकार में हुए है। इस दौरान उन्होंने सपा सरकार में बनवाई गयी चीनीमिल, ट्रामा सेंटर, सौ शैया अस्पताल, कलेक्ट्रेट भवन, कला भवन, कृषि विश्वविद्यालय कैंपस, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे आदि कार्यो का हवाला दिया।

Related Articles

Back to top button
65 साल के बुजुर्ग ने की बच्ची से हैवानियत: बहाने से घर बुलाकर किया रेप, चल भी नहीं पा रही थी मासूम अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 17 से शुरू होगा मुख्य अनुष्ठान, जानिए किस दिन होगा कौन सा पूजन रॉयल एनफील्ड हिमालयन 450 बनाम केटीएम 390 एडवेंचर बनाम बीएमडब्ल्यू जी 310 जीएस: स्पेक्स, कीमत की तुलना देखिए काशी की अद्भुत देव दीपावली: 10 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे, ड्रोन से गंगा घाट की ये तस्वीरें मोह लेंगी