उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

सपा के बागी नितिन अग्रवाल बने यूपी विधानसभा के डिप्‍टी स्‍पीकर, कांग्रेस के बहिष्कार के बाद भी अदिति सिंह ने डाला वोट

सपा के बागी नेता नितिन अग्रवाल आज यूपी विधानसभा के डिप्टी स्पीकर चुने गए हैं. नितिन को बीजेपी ने डिप्टी स्पीकर पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाया था. अब उन्होंने चुनाव में जीत हासिल की है. नितिन अग्रवाल ने सपा के उम्मीदवार नरेंद्र वर्मा को 244 वोटों से हराकर जीत हासिल की है. विधानसभा परिसर के भीतर बैलेट पेपर के जरिए आज वोटिंग हुई थी. बीजेपी उम्मीदवार नितिन अग्रवाल को 304 वोट मिले तो वहीं सपा उम्मीदवार नरेंद्र वर्मा को सिर्फ 60 वोट मिले.

बता दें कि विधानसभा के डिप्टी स्पीकर के चुनाव के लिए कुल 368 वोट पड़े, जिनमें से चार को अवैध घोषित कर दिया गया. विधानसभा के डिप्टी स्पीकर के चुनाव में बीएपी और कांग्रेस ने वोट नहीं किया. दोनों पार्टियों के विधायकों ने ही चुनाव का बहिष्कार किया. लेकिन कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह ने वोट डाला. बता दें कि नितिन अग्रवाल यूपी के पूर्व मंत्री नरेश अग्रवाल के बेटे हैं. वह हरदोई से तीन बार विधायक रह चुके हैं. वह सपा से बगावत करके बीजेपी में पहुंचे थे.

विधानसभा के डिप्टी स्पीकर नितिन अग्रवाल

विधायक अदिति सिंह ने डाला वोट

एक तरफ जहां कांग्रेस विधायकों ने वोटिंग का बहिष्कार किया, वहीं बागी विधायक अदिति सिंह ने डिप्टी स्पीकर चुनाव के लिए अपना मतदान किया. बता दें कि यूपी में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं. ऐसे में विधानसभा का कार्यकाल कुछ ही महीनों का बचा है. बीजेपी ने हरदोई सदर विधानसभा सीट से तीसरी बार विधायक नितिन अग्रवाल को डिप्टी स्पीकर पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाया था. अब नितिन अग्रवाल ने जीत हासिल की है.

नरेश अग्रवाल के बेटे हैं नितिन अग्रवाल

नितिन अग्रवाल सात बार के विधायक नरेश अग्रवाल के बेटे हैं. नितिन ने साल 2017 में सपा की टिकट पर चुनाव लड़ा था और जीत हासिल की थी. बाद में सपा में अनबन हो जाने के बाद दोनों बीजेपी के खेमे में हैं. हरदोई से प्रारंभिक शिक्षा के बाद नितिन ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया और पुणे से एमबीए की डिग्री ली. साल 2007 में नरेश अग्रवाल के सपा से इस्तीफा देने के बाद 2008 के उपचुनाव में नितिन अग्रवाल बसपा की टिकट पर हरदोई सीट से पहली बार मैदान में उतारे और जीत हासिल की.

Related Articles

Back to top button
65 साल के बुजुर्ग ने की बच्ची से हैवानियत: बहाने से घर बुलाकर किया रेप, चल भी नहीं पा रही थी मासूम अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 17 से शुरू होगा मुख्य अनुष्ठान, जानिए किस दिन होगा कौन सा पूजन रॉयल एनफील्ड हिमालयन 450 बनाम केटीएम 390 एडवेंचर बनाम बीएमडब्ल्यू जी 310 जीएस: स्पेक्स, कीमत की तुलना देखिए काशी की अद्भुत देव दीपावली: 10 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे, ड्रोन से गंगा घाट की ये तस्वीरें मोह लेंगी