देशबड़ी खबर

पश्चिम बंगाल के पंचायत मंत्री सुब्रत मुखर्जी का 75 साल की उम्र में निधन, CM ममता बनर्जी ने जताया दुख

पश्चिम बंगाल के मंत्री और वरिष्ठ टीएमसी नेता सुब्रत मुखर्जी का 75 साल की उम्र में गुरुवार को दिल का दौरा पड़ने से कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में निधन हो गया. उनके निधन पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दुख जताते हुए हुए कहा कि ये उनके लिए एक भयानक क्षति है. ममता बनर्जी ने कहा कि वो एक समर्पित पार्टी कार्यकर्ता थे और हमेशा लोगों के लिए काम करते थे. ये मेरे लिए बहुत बड़ी क्षति है. गोवा से कोलकाता लौटते ही मैं उनसे मिलने आई थी. अस्पताल के प्रिसिंपल ने मुझे बताया कि उन्हें शुक्रवार को छुट्टी मिलनी थी. रोशनी के त्योहार पर, ये एक महान अंधेरा है.

वहीं पश्चिम बंगाल के परिवहन मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा कि सुब्रत का रात 9:22 बजे निधन हो गया. उन्होंने कहा कि ये टीएमसी के लिए बहुत बड़ी क्षति है. अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थिव शरीर शुक्रवार सुबह कोलकाता के रवीन्द्र सदन में रखा जाएगा. दिग्गज नेता और पंचायत मंत्री सुब्रत मुखर्जी (76) को एसएसकेएम अस्पताल में पिछले महीने 25 अक्टूबर को सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद भर्ती कराया गया था.

शुभेंदु अधिकारी ने भी सुब्रत मुखर्जी के निधन पर जताया दुख

वहीं नेता प्रतिपक्ष और बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी ने सुब्रत मुखर्जी के निधन पर दुख जताया है. शुभेंदु अधिकारी ने ट्वीट कर कहा कि अनुभवी राजनेता और पश्चिम बंगाल के वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री सुब्रत मुखर्जी के निधन से मुझे गहरा दुख हुआ है. मेरी संवेदनाएं उनके शोक संतप्त परिवार के सदस्यों, प्रशंसकों और समर्थकों के साथ हैं. उनकी आत्मा को शाश्वत शांति मिले. ओम शांति.

कोलकाता के पूर्व महापौर भी रह चुके हैं सुब्रत मुखर्जी 

अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव में बल्लीगंज सीट से चुनाव जीतकर सुब्रत मुखर्जी ने विधायक के तौर पर 50 साल पूरे किए थे. वो 1970 में पश्चिम बंगाल में कांग्रेस सरकार में मंत्री थे और 2011 से ही तृणमूल कांग्रेस सरकार में मंत्रिमंडल में हैं. वो कोलकाता के पूर्व महापौर भी रह चुके हैं. इससे पहले नारद स्टिंग मामले में जेल भेजे गए सुब्रत मुखर्जी को इसी प्रकार की बीमारी के कारण मई में अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

Related Articles

Back to top button
65 साल के बुजुर्ग ने की बच्ची से हैवानियत: बहाने से घर बुलाकर किया रेप, चल भी नहीं पा रही थी मासूम अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 17 से शुरू होगा मुख्य अनुष्ठान, जानिए किस दिन होगा कौन सा पूजन रॉयल एनफील्ड हिमालयन 450 बनाम केटीएम 390 एडवेंचर बनाम बीएमडब्ल्यू जी 310 जीएस: स्पेक्स, कीमत की तुलना देखिए काशी की अद्भुत देव दीपावली: 10 लाख से अधिक पर्यटक पहुंचे, ड्रोन से गंगा घाट की ये तस्वीरें मोह लेंगी